ALL विज्ञान स्वास्थ्य स्वाद समाचार ज्ञानवर्धक जानकारी जनहित abhivyakti
सर्टिफिकेट फर्जीवाडाः 7 शिक्षक बर्खास्त,जानियेः उत्तराखंड में कहां का है मामला
July 18, 2020 • Dr. SANDEEP BHARDWAJ

रूद्रपुरः जिले में फर्जी सर्टिफिकेट के सहारे नौकरी करने वाले सात शिक्षकों पर भारी पड़ गया।  सातों शिक्षकों को शिक्षा विभाग ने बर्खास्त कर दिया है। किसी शिक्षक के हाईस्कूल तो किसी के इंटरमीडिएट के सर्टिफिकेट फर्जी निकले हैं साथ ही कुछ की बीटीसी की डिग्रियां और जाति प्रमाण पत्र भी फर्जी निकले हैं।

इसके बाद मजबूरन शिक्षा विभाग को अपने यहां सालों से तैनात इन शिक्षकों को बर्खास्तगी का रास्ता दिखाना पड़ां। फर्जी शिक्षकों के सरकारी नौकरी करने की खबर पर शासन की तरफ से एसआईटी का गठन किया गया है। जो संदिग्ध शिक्षकों के सर्टिफिकेट की जांच कर रही है।

इसी दौरान ऊधम सिंह नगर में अभी तक 32 शिक्षक जांच के दायरे में आ चुके हैं। इनमें से 19 पहले ही बर्खास्त किए जा चुके हैं।  अभी तक कुल 26 शिक्षक बर्खास्त हो चुके हैं। हालांकि, फर्जी डिग्री और स्कूल सर्टिफिकेट लगाने के आरोपी सभी शिक्षकों को शिक्षा विभाग तीन सुनवाइयों का मौका देगा, ताकि आरोपी शिक्षक अपना पक्ष रख सकें, और उनके खिलाफ किसी तरह का कोई अन्याय न हो। 

ऊधम सिंह नगर के डीईओ (बेसिक) अशोक कुमार के मुताबिक, फर्जी प्रमाण पत्रों के आधार पर नौकरी पाने वाले सात शिक्षकों को बर्खास्त किया गया है।  अब तक इस फर्जीवाड़े में कुल 26 शिक्षकों को बर्खास्त किया जा चुका है। जिसमें सबसे अधिक 10 शिक्षक गदरपुर और 8 शिक्षक सितारगंज ब्लॉक के हैं, इनके अलावा बाजपुर के 7, जसपुर, खटीमा और रुद्रपुर के दो-दो और काशीपुर के एक शिक्षक पर लगे आरोप सही पाए गए हैं।