ALL विज्ञान स्वास्थ्य स्वाद समाचार ज्ञानवर्धक जानकारी जनहित abhivyakti
संतों की बैठक में पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष और कैबिनेट मंत्री भिड़े
October 9, 2020 • Dr. SANDEEP BHARDWAJ

संतों की बैठक में कांग्रेस नेता सतपाल ब्रह्मचारी और कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक भिड़े

हरिद्वारः हरिद्वार में प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अखाड़ों और आश्रमों को सीवर शोधन संयंत्र (एसटीपी) लगाने के लिए नोटिस जारी करने को लेकर चल रही संतों की बैठक में कांग्रेस नेता सतपाल ब्रह्मचारी और कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक भिड़ गए। बैठक में दोनों के बीच आरोप-प्रत्यारोप के बाद तू-तू-मैं-मैं हुई। इस दौरान जमकर हंगामा हो गया।
इस दौरान संतों ने कहा कि अखाड़े और आश्रम किसी प्रकार प्रदूषण नहीं फैलाते हैं। संतों ने कहा कि अगर नोटिस वापस नहीं लिया गया तो संत महाकुंभ का बहिष्कार कर देंगे।

पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष और राधाकृष्ण धाम के संस्थापक सतपाल ब्रह्मचारी ने कहा कि बीजेपी सरकार संतों के साथ अन्याय कर रही है। बार बार नोटिस भेजकर संत समाज का अपमान किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि एक सप्ताह के भीतर अगर नोटिस वापस नहीं लिया गया तो संत समाज हरकी पैड़ी पर सांकेतिक प्रदर्शन कर आगामी महाकुंभ का बहिष्कार कर देंगे। स्वामी रूपेंद्र प्रकाश ने कहा कि सरकार को अखाड़ों और आश्रमों में एसटीपी लगाने चाहिए। सभी आश्रमों के पास इतना धन भी नहीं है कि वे एसटीपी बनाए।