ALL विज्ञान स्वास्थ्य स्वाद समाचार ज्ञानवर्धक जानकारी जनहित abhivyakti
पाकिस्तानी पायलटों को कई देशों ने किया बैन
June 29, 2020 • SANJEEV SHARMA

दरअसल, हाल में वैश्विक एयरलाइंस संस्था आईएटीए ने कहा था कि पाकिस्तानी अंतरराष्ट्रीय एयरलाइंस के पायलटों के लाइसेंस में अनियमितताएं पाई गई हैं, "जो कि सेफ्टी कंट्रोल में गंभीर चूक है." इसके बाद पाकिस्तान ने पिछले हफ़्ते कहा था कि वो उन 262 एयरलाइन पायलटों को हटा रहा है जिनके विश्वसनीयता फर्ज़ी हो सकती है।

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार वियतनाम के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण (सीएएवी) ने सोमवार को एक बयान में कहा, "सीएएवी के प्रमुख ने वियतनामी एयरलाइंस के लिए काम कर रहे सभी पाकिस्तानी पायलटों को निलंबित करने के आदेश दिए हैं"।

सीएएवी के मुताबिक़, वियतनाम ने 27 पाकिस्तानी पायलटों को लाइसेंस दिया था और उनमें से 12 अब भी सक्रिय हैं।हालांकि अन्य 15 पायलटों के कॉन्ट्रैक्ट या तो एक्सपायर हो चुके हैं या वो कोरोना महामारी की वजह से निष्क्रिय हैं।

वियतनाम की एयरलाइन्स में फ़िलहाल 1,260 पायलट हैं. सीएएवी के मुताबिक़, इनमें से आधों के पास विदेशी नागरिकता है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार खाड़ी में पाकिस्तान के पारंपरिक सहयोगी - कुवैत, क़तर, संयुक्त अरब अमीरात के अलावा ओमान ने कथित तौर पर पाकिस्तान मूल के पायलटों को फर्ज़ी लाइसेंस मामले की वजह से हटाने का फ़ैसला किया है।

ख़बरे भी आईं कि पश्चिम एशिया के सबसे पुराने एयरवेज़ में से एक कुवैत एयरलाइन ने अपने सभी सातों पाकिस्तानी मूल के पायलटों को हटा दिया है।

ब्रिटेन स्थित एक पाकिस्तानी मूल के पत्रकार गुल बुखारी ने ट्वीट किया, "फर्ज़ी लाइसेंस मामले को लेकर कुवैत एयरवेज़ ने सभी 7 पाकिस्तानी पायलटों को हटा दिया है, 56 इंजीनियर को निलंबित कर दिया है और हैंडलिंग स्टाफ को भी हटा दिया है। ऐसी ही ख़बरें क़तर, ओमान, अमीरात और वियतनाम से भी आ रही हैं"।