ALL विज्ञान स्वास्थ्य स्वाद समाचार ज्ञानवर्धक जानकारी जनहित abhivyakti
मानव स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं की रोकथाम पर होगा राष्ट्रीय वेबीनार का आयोजन
August 20, 2020 • Dr. SANDEEP BHARDWAJ


एन टी न्यूज़ः  पंडित ललित मोहन शर्मा राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय,ऋषिकेश (श्री देव सुमन उत्तराखंड विश्वविद्यालय परिसर) के मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी विभाग के तत्वाधान आगामी शुक्रवार दिनांक 21 अगस्त 2020 को राष्ट्रीय वेबीनार आयोजित किया जा रहा है जिसमें प्रो॰ भोला नाथ, एम्स (भटिंडा) मौसमी बीमारी डेंगू से जुड़े तथ्य एवं रोकथाम संबंधित जानकारियाँ प्रतिभागियों के साथ साझा करेंगे।

वर्तमान में प्रो॰ भोला नाथ अकादमिक समन्वयक एवं  वॉइस डीन एग्जामिनेशन,एम्स (भटिंडा) के पद पर कार्यरत हैं। साथ ही वह इंडियन जरनल ऑफ फोरेंसिक मेडिसिन एंड कम्युनिटी मेडिसिन एवं जरनल ऑफ़ प्रिवेंटिव मेडिसिन एंड हॉलिस्टिक हैल्थ (नई दिल्ली) के मुख्य संपादक, जरनल ऑफ फैमिली मेडिसिन फोरकास्ट के संपादक तथा विभिन्न अंतर्राष्ट्रीय प्रकाशकों के संपादकीय बोर्ड के सदस्य के रूप में अपना सहयोग देते रहे हैं।

प्रो॰ भोला नाथ पूर्व में सरकारी दून मेडिकल कॉलेज (देहरादून) के प्रोफ़ेसर एवं हैड भी रह चुके हैं। वह बुलेटिन ऑफ वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन, यूरोपियन जरनल ऑफ पब्लिक हेल्थ, एशिया पेसिफिक जरनल ऑफ पब्लिक हेल्थ, इमरजेंसी मेडिसिन जरनल, इंटरनेशनल जरनल ऑफ एपिडेमियोलॉजी तथा इंडियन जरनल ऑफ कम्युनिटी हेल्थ के रिव्युअर भी हैं। उन्होंने देश के कई प्रतिष्ठित संस्थान जैसे आई.सी.एम.आर. एवं यूकॉस्ट कि कई परियोजनाओं पर काम किया है। उनके अनेक राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय पत्रिकाओं मे शोध पत्र प्रकाशित हैं और वह कई उत्कृष्ट पुस्तक एवं अध्यायों के लेखक भी हैं। दिनांक 2 जून 2018 मे उन्हें उत्कृष्ट कार्यों के लिए राष्ट्रीय गौरव अवार्ड से सम्मानित किया गया।

वेबिनार की दूसरी मुख्य वक्ता तथा प्रो०(डॉ०) (श्रीमती) सत्यवती राणा, सीनियर प्रोफ़ेसर, डिपार्टमेंट ऑफ बायोकेमिस्ट्री, एम्स (ऋषिकेश) हाइड्रोजन ब्रेथ टेस्ट की बीमारी का पता लगाने में भूमिका से संबंधित जानकारी देंगी। इससे पूर्व वह पी.जी.आई.एम.ई.आर (चंडीगढ़) मे गैस्ट्रोएंटरोलॉजी कि प्रोफ़ेसर के पद पर 42 साल कार्यरत रहीं। वह सेंट लुइस यूनिवर्सिटी (यू.एस.ए) मे पोस्ट डॉक्टोरल फेलो रही हैं एवं 2 साल पश्चिमी अफ्रीका के घाना में विजिटिंग प्रोफेसर के पद पर थीं। उनके कई राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय पत्रिकाओं में 134 शोध पत्र प्रकाशित हुए हैं।

उन्हें मार्च 2012, गुवाहाटी में इंडियन नेशनल एसोसिएशन फ़ॉर स्टडी ऑफ द लिवर (आई.एन.ए.एस.एल) में अनुसंधान कार्य के लिए स्पेशल अवार्ड प्राप्त किया। वह आई.सी.एम.आर, डी.बी.टी, डी.एस.टी तथा पी.जी.आई की अनुसंधान परियोजनाओं के लिए रिव्युअर भी हैं। विभिन्न रोगों की स्थिति में ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस एंड एंटीऑक्सीडेंट लेवल्स, क्लीनिकल न्यूट्रिशन, गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल डिज़ीस के लिए नॉन इनवेसिव डायग्नोस्टिक टेस्ट जैसे हायड्रोजन ब्रेथ टेस्ट, फ़ीकल पैनक्रिएटिक इलास्टेस इत्यादि उनके अनुसंधान छेत्र हैं।
वेबीनार के आयोजन सचिव , प्रो॰ गुलशन कुमार ढींगरा, समन्वयक मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी विभाग ने बताया कि यह वेबीनार प्रतिभागियों के लिये अत्यन्त महत्वपूर्ण सिध्द होगा एवं रोगों के प्रति जागरूकता आएगी। वेबिनार की संरक्षक प्रो॰ सुधा भारद्वाज, प्राचार्या, पंडित ललित मोहन शर्मा राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय (ऋषिकेश) ने सभी से वेबिनार में भाग लेने के लिए आग्रह किया।  मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी विभाग की आयोजन समिति में श्रीमती शालिनी कोटियाल, सुश्री सफिया हसन,अर्जुन पालीवाल एवं तकनीकी सहायता के लिए देवेंद्र भट्ट तथा विवेक राजभर रहेंगे |