ALL विज्ञान स्वास्थ्य स्वाद समाचार ज्ञानवर्धक जानकारी जनहित abhivyakti
क्रीडा भारती ने दी पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान को श्रद्वांजली
August 18, 2020 • Dr. SANDEEP BHARDWAJ

हरिद्वारः पूर्व अन्तर्राष्ट्रिय क्रिकेटर और यूपी सरकार में मौजूदा मंत्री एवं क्रीडा भारती के राष्ट्रीय अध्यक्ष चेतन चौहान का 73 साल की उम्र में गुरुग्राम में निधन हो गया जिससे पूरे देश में शोक की लहर दौड गई उनके आकस्मिक निधन से पूरे देश में शोक की लहर दौड गई। हरिद्वार जनपद के संघ कार्यलय बैठक भवन में क्रीड़ा भारती के अध्यक्ष अंतर्राष्टीय क्रिकेटर व
यूपी सरकार में कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान जी के आकस्मिक निधन पर गहरा दुख प्रकट किया गया और उनकी
प्रतिमा पर पुष्प चढ़ाकर श्रद्वांजली अर्पित की।

प्रांतीय पदाधिकारीयों ने गहरा दुख प्रकट किया और कहा कि चेतन चौहान जी के आकस्मिक निधन से राष्ट्र को बहुत बड़ी क्षति पहुंची है जिसकी भरपाई कभी नहीं हो पाएगी, उत्तराखण्ड के प्रांतीय मीडिया प्रभारी राजवीर सिंह तोमर ने कहा कि श्री चाैहान ने खेलों के माध्यम से देश काे आगे ले जाने का काम किया है और सभी के दिलों पर राज भी किया है, वह प्रत्येक खिलाड़ी के चहेते थे, क्रीड़ा भारती का गठन 1993 को किया गया था जिसमें उन्हे राष्ट्रीय अध्यक्ष की जिम्मेदारी साैपी गयी थी, जिसे उन्होने बखूबी निभाया और प्रत्येक काे सफलता का मार्ग  भी बताया। उनका कहना था कि अगर आप खेल में रुची रखते हैं तो इसके कईं लाभ हैं, जिससे बीमारी तो कभी नजदीक आ ही नही सकती।

क्रीड़ा भारती के प्रांतीय सह-मंत्री साेहनवीर राणा ने कहा कि क्रीड़ा भारती के राष्ट्रीय अध्यक्ष उत्तर प्रदेश के मंत्री एवं पूर्व क्रिकेटर श्री चेतन चाैहान जी ने अपने जीवन में पहले एक खिलाड़ी के रूप में और बाद में एक जन सेवक के रूप में
देश की सेवा की है उनका निधन भारतीय राजनीति और क्रिकेट के लिए तथा खेल खेलों के लिए एक बड़ी क्षति है ईश्वर से दिवंगत आत्मा काे अपने श्रीहरि चरणाें में स्थान दें, और परिजनाें काे यह गहन दुख सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं और उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।

श्रद्वाजंली सभा के कार्यक्रम काे काेविड-19 काे ध्यान में रखते हुए साेशल डिस्टेसिंग का पालन किया गया,एवं सूक्ष्म रुप दिया गया , कार्यक्रम में  साेहनवीर राणा, माेहनदत्त भट्ट, चन्दन सैनी, अमित जी, राजकुमार शर्मा , राजवीर सिंह ताेमर आदि शामिल रहे।