ALL विज्ञान स्वास्थ्य स्वाद समाचार ज्ञानवर्धक जानकारी जनहित abhivyakti
कोरोना वैक्सीन की उपलब्धता पर क्या बोले स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन
September 13, 2020 • Dr. SANDEEP BHARDWAJ

देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। पिछले कुछ दिनों से 90 हजार से ज्यादा मरीज रोज सामने आ रहे हैं। इस वजह से लोगों को अब कोरोना वायरस की वैक्सीन का ही इंतजार है।

दुनिया के कई देशों में विभिन्न वैक्सीन्स पर काम चल रहा है। इन सभी के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने बताया है कि भारत में अभी वैक्सीन की लॉन्चिंग को लेकर कोई तारीख तय नहीं हुई है, लेकिन यह अगले साल की पहली तिमाही में आ सकती है। केंद्रीय मंत्री ने यह जानकारी सोशल मीडिया के कार्यक्रम 'संडे संवाद' के दौरान दी।

डॉ. हर्षवर्धन का यह बयान तब आया है, जब एक दिन पहले दवा कंपनी एस्ट्राजेनेका ने कहा है कि ब्रिटिश रेग्युलेटर से हरी झंडी मिलने के बाद इसने कोविड-19 वैक्सीन का मानव परीक्षण एक बार फिर शुरू कर दिया है। एक वॉलंटियर के बीमार पड़ जाने की वजह से इसे बीच में रोकना पड़ा था। इसके बाद भारत में भी इस वैक्सीन के ट्रायल पर रोक लगा दी गई थी।

केंद्रीय मंत्री ने लोगों को आश्वासन दिया किया सरकार वैक्सीन के ह्यूमन ट्रायल में पूरी तरह से सावधानी बरत रही है। उन्होंने कहा, 'वैक्सीन सुरक्षा, लागत, इक्विटी, कोल्ड-चेन आवश्यकताएं, उत्पादन, समय सीमा आदि जैसे मुद्दों पर भी गहनता से चर्चा की जा रही है।' कोरोना वैक्सीन के एक बार तैयार होने के बाद, इसे उन लोगों के लिए सबसे पहले उपलब्ध कराया जाएगा जिन्हें इसकी सबसे अधिक आवश्यकता है।

उन्होंने आगे कहा, 'देश में कई वैक्सीन का ट्रायल चल रहा है। अभी हम इस बात का अनुमान नहीं लगा सकते हैं कि कौन सी वैक्सीन सबसे ज्यादा प्रभावी होगी, लेकिन यह 2021 की पहली तिमाही तक, हम निश्चित तौर पर परिणाम जान जाएंगे।' वहीं, मंत्री ने कहा कि वैक्सीन को लेकर एक्सपर्ट्स का ग्रुप का गठन किया गया है, जो पूरी प्रक्रिया की देखरेख कर रहा है। हालांकि, जैसे ही परीक्षण के रिजल्ट्स का आकलन किया जाता है, उसी समय कंपनियों को बड़े पैमाने पर उत्पादन शुरू करने के लिए कह दिया जाएगा, ताकि समय की बचत हो।