ALL विज्ञान स्वास्थ्य स्वाद समाचार ज्ञानवर्धक जानकारी जनहित abhivyakti
कोरोना के लगातार मरीज बढ़ने से बढ़ रहा, अस्पतालों में इलाज का दबाव
September 3, 2020 • Dr. SANDEEP BHARDWAJ

कोरोना के लगातार सक्रिय मरीज बढ़ने से अस्पतालों में इलाज का दबाव बढ़ा

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण की चपेट में आने वालों की तुलना में ठीक होने वाले मरीजों की रफ्तार धीमी है। लगातार सक्रिय मरीज बढ़ने से अस्पतालों में इलाज का दबाव बढ़ रहा है।
हालांकि सरकार ने निजी अस्पतालों को भी कोरोना संक्रमितों का इलाज करने की अनुमति दी है और इलाज की दरें तय की है। लेकिन आइसोलेशन बेड का एक दिन का कम से कम आठ हजार रुपये की दर से इलाज के लिए खर्च करना आम मरीज की जेब पर भारी पड़ेगा।

प्रदेश में सैंपल जांच बढ़ने के साथ ही कोरोना मरीजों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। इसकी तुलना में ठीक होने वाले मरीजों की संख्या कम है। बीते सात दिनों में प्रदेश में कोरोना के 4637 मरीज मिले और 2913 मरीज ठीक हुए हैं।

इस दौरान 72 कोरोना मरीजों की मौत हुई है। सक्रिय मरीजों की संख्या भी 6442 पहुंच गई है। अस्पतालों पर लगातार इलाज का दबाव बढ़ रहा है। ऊधमसिंह नगर, देहरादून और हरिद्वार जिले में सबसे अधिक कोरोना मरीज भर्ती हैं।