ALL विज्ञान स्वास्थ्य स्वाद समाचार ज्ञानवर्धक जानकारी जनहित abhivyakti
किसने कियाः पतंजलि की कोरोनिल दवा पर उठे सवालो पर प्रदर्शन
June 28, 2020 • SANJEEV SHARMA

                                                                                            
संजीव शर्मा, हरिद्वारः योगगुरु बाबा रामदेव, आचार्य बालकृष्ण द्वारा 22 जून को कोरोनिल आयुर्वेदिक उपचार के संग्रह की घोषणा की थी उस पर उठे सवालो का तीखा प्रहार करते हुए योगक्रांति, आयुर्वेदिक, हर्बल जड़ी बूटियों स्वदेशी उत्पाद के माध्यम से देश दुनिया मे डंका बजाने वाले योग गुरु बाबा रामदेव, आचार्य बालकृष्ण का समर्थन करते हुए पूर्व कृषि उत्पादन मंडी समिति अध्यक्ष, भाजपा नेता संजय चोपड़ा ने सामाजिक दूरी के साथ बाबा रामदेव, आचार्य बालकृष्ण के समर्थन में नारेबाजी करते हुए थाली बजाकर, ताली बजाकर, पैदल मार्च निकालकर जोरदार प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने बाबा रामदेव व उनकी संस्था पर झूठे मुकदमे दर्ज कराने पर घोर आपत्ति दर्ज करते हुए षड्यंत्र कारियो के खिलाफ केंद्र व राज्य सरकार से गिरफ्तारी की मांग की।                                                          
इस अवसर पर पूर्व कृषि उत्पादन मंडी समिति अध्यक्ष, भाजपा नेता संजय चोपड़ा ने कहा योगगुरु बाबा रामदेव ने अपने सार्थक प्रयास से योगक्रान्ति के माध्यम से उत्तराखंड हरिद्वार का देश दुनिया मे नाम रोशन किया है वहीं आचार्य बालकृष्ण द्वारा हिमालय की वादियों गंगा, यमुना व पर्वतीय नदियों के आंचल से दुर्लभ -दुर्लभ जड़ी बूटियों की खोज कर दुनिया मे आयुर्वेद के प्रति विश्वास जगाकर लोगो को स्वस्थ करने की मोहिम चला रखी है, वहीं बाबा रामदेव द्वारा कोरोनिल कोविड-19 के उपचार के रोकथाम के लिए यदि आयुर्वेदिक औषधि संग्रह की गई है तो इसमें आपत्ति किस बात की है।

जबकि अंग्रेजी दवाइयों से कोरोना का उपचार किया जाना असंभव सा होता दिखाई दे रहा है। उन्होंने कहा भारत सरकार व राज्य सरकार को अपने संरक्षण में कोरोनिल व अन्य बीमारियों के आयुर्वेदिक उपचार की औषधियों को विधिवत रूप से जनता के लिए सस्ते दरों पर संचालित करनी चाहिए।

उन्होंने यह भी कहा बाबा रामदेव व उनकी संस्था पर जिस प्रकार से बदले की भावना से महाराष्ट्र, राजस्थान व अन्य क्षेत्रों में मुकदमें दर्ज कराए जा रहे है व उनकी संस्थाओ की छवि धूमिल करने के प्रयास किये जा रहे है जो कि निंदनीय है। योगगुरु बाबा रामदेव, आचार्य बालकृष्ण के समर्थन में नारेबाजी कर झूठे मुकदमो का विरोध करते विजय गुप्ता, छोटेलाल शर्मा, मान सिंह, अशोक शर्मा, रवि शर्मा, ओमप्रकाश, पंडित मनीष शर्मा, मोहनलाल, मुकेश कुमार आदि प्रमुख रूप से शामिल रहे।