ALL विज्ञान स्वास्थ्य स्वाद समाचार ज्ञानवर्धक जानकारी जनहित abhivyakti
हरिद्वारः क्या कर है वन विभाग, जंगली जानवरों को आबादी क्षेत्र में आने से रोकने के लिए
April 3, 2020 • SANJEEV SHARMA
संजीव शर्मा, हरिद्वारः हरिद्वार में राजाजी टाइगर रिजर्व पार्क प्रशासन ने हाथियों सहित अन्य जंगली जानवरों को आबादी क्षेत्र में आने से रोकने के लिए दो टीमें बनाई हैं। इसके साथ ही किसी भी स्थिति से निपटने के लिए रेस्क्यू टीम को भी तैयार किया गया है।
उल्लेखनीय है कि बीती रात दो जंगली हाथी शहर के अंदर घुस गए थे। दोनों हाथी घंटों तक हरकी पैड़ी के घाट के साथ रेलवे ट्रैक पर चहल कदमी करते रहे। गनीमत रही कि किसी को हाथी ने कोई नुकसान नहीं पहुंचा। इस घटना के बाद पार्क प्रशासन ने हाथियों के अलावा अन्य जंगली जानवरों को आबादी में आने से रोकने के लिए टीम गठन करने का निर्णय लिया।
राजाजी टाइगर रिजर्व पार्क के वन्य जीव प्रतिपालक कोमल सिंह ने बताया कि दो वन क्षेत्राधिकारियों के नेतृत्व में दो टीमों का गठन कर दिया गया है। वन क्षेत्राधिकारी मदन सिंह रावत के नेतृत्व में एक टीम हरिद्वार शहर से लेकर मोतीचूर तक गश्त करेगी और दूसरी टीम वन क्षेत्राधिकारी अचल गौतम के नेतृत्व में मोतीचूर से नेपाली फार्म तक। उन्होंने बताया कि इसके साथ ही किसी भी स्थिति से निपटने के लिए रेस्क्यू टीम को भी तमाम संसाधनों के साथ तैयार रहने के निर्देश दिए गए हैं।
आबादी क्षेत्र में घुसे हाथियों की धमाचैकड़ी को लेकर वन विभाग भी अब सतर्क हो गया है।
वन विभाग ने राजाजी टाइगर रिजर्व पार्क की सीमा पर गश्त बढ़ाने के साथ ही कर्मचारियों को सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। हरिद्वार वन प्रभाग के रेंजर दिनेश नौटियाल ने बताया कि आबादी क्षेत्र में जंगली जानवरों को आने से रोकने के लिए राजाजी टाइगर रिजर्व पार्क की सीमा पर गश्त बढ़ा दी गई है।