ALL विज्ञान स्वास्थ्य स्वाद समाचार ज्ञानवर्धक जानकारी जनहित abhivyakti
एनयूजे का राष्ट्रीय अधिवेशनः पत्रकारों के खिलाफ फर्जी मुकदमे के खिलाफ आवाज बुलंद
September 13, 2020 • Dr. SANDEEP BHARDWAJ

हरिद्वारः वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से एनयूजे-आई ने राष्ट्रीय अधिवेशन का आयोजन किया।  जिसमें भाग लेते हुए नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स (इंडिया) ने, अखबारों और चैनलों में पत्रकारों की छंटनी, वेतन कटौती, फर्जी मुकदमों में गिरफ्तारी, उत्पीड़न, पत्रकार सुरक्षा कानून बनाने और मीडिया कांउसिल के गठन की मांग को लेकर देशभर में आंदोलन करने की बात रखी।

इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ जर्नलिस्ट्स के महासचिव एंथनी बेलांगर ने  वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से आयोजित एनयूजे-आई के राष्ट्रीय अधिवेशन में कहा कि पत्रकारों के हित और कल्याण के लिए बड़े पैमाने पर कार्य करने की आवश्यकता है। एनयूजेआई के पत्रकारों के हितों की रक्षा के लिए किये जा रहे तमाम प्रयासों का समर्थन करते हैं।

बेवनार के माध्यम से आयोजित कार्यक्रम में एनयूजे राष्ट्रीय अध्यक्ष रास बिहारी ने कहा कि राष्ट्रीय अधिवेशन में केंद्र और राज्य सरकारों से मीडिया जगत के लिए आर्थिक पैकेज देने की मांग की गई। केंद्र सरकार से मांग की गई कि आर्थिक संकट का सामना कर रहे मध्यम और लघु समाचार पत्रों के लिए आर्थिक पैकेज की जल्दी से जल्दी से घोषणा की जाए।

उन्होंने बताया कि कोरोनाकाल में छंटनी का शिकार बने पत्रकारों और कर्मचारियों के सामने आर्थिक संकट पैदा हो गया है। जिलों और छोटे कस्बों में काम करने वाले पत्रकारों को तो वेतन ही नहीं मिल रहा है। ऐसे में केंद्र और राज्य सरकारें आर्थिक तौर पर संकट का सामना कर रहे पत्रकारों को एकमुश्त आर्थिक सहायता देने की व्यवस्था कराएं।

अधिवेशन में पत्रकार सुरक्षा कानून, मीडिया कमीशन और मीडिया काउंसिल के गठन, कोरोना महामारी के चलते पत्रकारों का उत्पीड़न, एनयूजेआई के सविधान में संसोधन और अन्य कई महत्वपूर्ण प्रस्ताव पारित किए गए। उत्तराखंड से इस अधिवेशन में प्रतिभाग करते हुये प्रान्तीय अध्यक्ष ब्रह्मदत्त शर्मा ने पत्रकार हितों से जुड़ी विभिन्न मांगों को प्रमुखता से उठाते हुये उनके निराकरण की मांग की व राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा लाये गये प्रस्तावों का पुरजोर समर्थन किया।

हरिद्वार से जिला अध्यक्ष अमित शर्मा, महामन्त्री जयपाल सिंह, उपाध्यक्ष विकास झा, विवेक शर्मा, प्रतिमा वर्मा, प्रशांत शर्मा, संतोष उपाध्याय, चन्द्रशेखर जोशी, रविन्द्र सिंह, राव रियासत पुण्डीर, सुनील मिश्रा, राधेश्याम विद्याकुल, सुरेन्द्र बोकाडिया, गुरप्रीत सिंह, मुदित अग्रवाल, निशा शर्मा, मंजू नेगी, रामेश्वर शर्मा, आनन्द गोस्वामी, शिवा अग्रवाल, अश्वनी अरोड़ा, मुकेष्ठ वर्मा,एहसान अंसारी, शिवा अग्रवाल,रजत चैहान, विनोद मिश्रा,शिवकुमार शर्मा सहित कई पदाधिकारियों ने अधिवेशन में प्रतिभाग किया।