ALL विज्ञान स्वास्थ्य स्वाद समाचार ज्ञानवर्धक जानकारी जनहित abhivyakti
आशा कार्यकर्ताओं को मोबाइल दिलाने में बड़ी धांधली की तैयारी
August 1, 2020 • Dr. SANDEEP BHARDWAJ

ब्यूरो:  उत्तराखंड में आशा कार्यकर्ताओं को मोबाइल और टैबलेट मुहैया करवाने की आड़ में बड़ी धांधली की पृष्ठिभूमि तैयार की गई है। इससे उत्तराखंड सरकार को बड़ी चपत लगने जा रही है।

स्थिति यह है कि जिस फीचर के मोबाइल फोन को खरीदने के लिए भारत सरकार ने दिशानिर्देश दिए हैं, उसे उत्तराखंड के अधिकारियों ने दरकिनार कर महंगे और ज्यादा फीचर वाले मोबाइल फोन खरीदने के लिए टैंडर निकाला है।
जीरो टालरेंस का दावा करने वाली सरकार के ही कुछ अधिकारी सैमसंग मोबाइल को करोड़ों रुपए का ठेका देने जा रहे हैं। इसके लिए इन अधिकारियों ने टेंडर को ऐसा मूर्तरूप दिया है कि चाहकर भी कोई अन्य मोबाइल कंपनी इस टेंडर प्रक्रिया में हिस्सा ही न ले सके।

इनफार्मेशन टेक्नोलाजी डेवलेपमेंट एजेंसी (आईटीडीए), उत्तराखंड ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की ओर से 7,835 स्मार्ट फोन और 3,076 टैबलेट और बायोमेट्रिक उपकरणों की खरीद के लिए एक टेंडर निकाला है। ये मोबाइल और टैबलेट आशा कार्यकर्ताओं और एएनएम के लिए खरीद की जा रही है।

टेंडर में उत्पाद की तकनीक, नियम और शर्तें विशेष रूप से उक्त मोबाइल कंपनी का पक्ष लेने के लिए तैयार की गई है। इसके लिए कुछ दिन पहले हुई एक बैठक में कई मोबाइल निर्माता कंपनियों के प्रतिनिधियों ने अपने विचार और सवाल रखे थे, जिससे टेंडर में किसी बड़े ब्रांड के प्रति पक्षपात न हो सके।

बावजूद इसके आईटीडीए ने उन सवालों को अनदेखा कर दिया है। आईटीडीए के अधिकारियों ने इन सवालों को अनदेखी करते हुए सैमसंग मोबाइल कंपनी के अनुसार टैंडर निकाल दिया। सूत्र बताते हैं कि इस खेल में एनएचएम  उत्तराखंड के कुछ अधिकारी भी उक्त मोबाइल कंपनी के पक्ष में हैं।